बल एवं पुष्टि वर्धक तिल

तिल स्निग्ध, उष्ण, उत्तम वायुशामक, कफ-पित्तवर्धक, पचने में भारी, बल-बुद्धि व जठराग्नि वर्धक, त्वचा, बाल तथा दाँतों के लिए हितकारी हैं । (अष्टांगहृदय, सुश्रुत संहिता)

तुम्हारे जीवन की संक्रांति का भी यही लक्ष्य होना चाहिए

तुम्हारे जीवन की संक्रांति का लक्ष्य यह होना चाहिए कि दुबारा जन्म न मिले बस ! मृत्यु से डरने की जरूरत नहीं है, मृत्यु से डरने से कोई मृत्यु से बच नहीं गया । परंतु दुबारा जन्म ही न हो ऐसा प्रयास करने की जरूरत है ताकि फिर दुबारा मौत भी नहीं आये ।

तुलसी पूजन दिवस पर ‘तुलसी रहस्य’ किताब का निःशुल्क वितरण ।

कालिंदी पब्लिक स्कूल में तुलसी पूजन दिवस मनाया गया ।

मरगुल में मातृ-पितृ पूजन का आयोजन ।

समिति ने तुलसी पौधे वितरित किए ।

महिला उत्थान मंडल ने धूमधाम से मनाया तुलसी पूजन दिवस ।

आश्रम में भारत विश्व गुरु कार्यक्रम के तहत हुआ माला पूजन कार्यक्रम ।

Relinquish your lowly Jivahood and take rest in the Highest Shivahood. – Pujya Bapuji

आशारामजी बापू के साधकों ने निकाली गीता जयंती के निमित्त प्रभात हरिनाम यात्रा निकाली ।