चैत वद छः* उन्नीस अठानवे,

आसुमल अवतरित आँगने ।।

माँ मन में उमड़ा सुख सागर, द्वार पै आया एक सौदागर ।
लाया एक अति सुंदर झूला, देख पिता मन हर्ष से फूला ।।
सभी चकित ईश्वर की माया, उचित समय पर कैसे आया ।
ईश्वर की ये लीला भारी, बालक है कोई चमत्कारी ।।

विश्व सेवा-सत्संग दिवस  –

पूज्य संत श्री आशाराम जी बापू अपने भक्तों को निस्वार्थ भाव से मानव सेवा करने को प्रेरित करते हैं अतः पूज्य बापूजी के अवतार दिवस (अवतरण दिवस) को उनके लाखों अनुयायियों द्वारा पूरी दुनिया में विश्व सेवा दिवस के रूप में मनाया जाता है। अवतार दिवस के अवसर पर पूज्य बापूजी के साधक भण्डार कर, छाछ बाँट कर, अस्पतालों में फल बाँटकर, गरीबों के लिए टोपी (टोपी) बाँटकर, साहित्य बाँटकर, संकीर्तन यात्राएँ आयोजित करके, दुनिया भर में अनेक कल्याणकारी कार्य करते हैं…

Articles

Poems

हुए अवतरित हैं आज गुरूजी हमारे
गुरूजी हमारे , भक्तों के दुलारे
हुए अवतरित हैं आज गुरूजी हमारे
देखो मेरे गुरुवर की शान निराली , सत्संग की भर -भर देते प्याली
किया भक्तों का उद्धार गुरुजी हमारे , हुए अवतरित हैं आज गुरूजी हमारे …
कैसा मंगल दिवस है आया , भक्तों ने बड़ी धूम से मनाया
कीर्तन की बहती बयार गुरुजी हमारे , हुए अवतरित हैं आज गुरूजी हमारे …
जन्म से पहले सौदागर आया , सुंदर सा एक झूला भी लाया
हुआ धरती पर अवतार गुरुजी हमारे , हुए अवतरित हैं आज गुरूजी हमारे …
ज्ञान गगन के सूर्य हैं बापू , शील शांत माधुर्य हैं बापू
सोलह कला के अवतार गुरुजी हमारे , हुए अवतरित हैं आज गुरूजी हमारे …
“शुभ” जगत में आनंद छाया , मंगलाचरण सारे विश्व में गाया
कलिकाल में तारणहार गुरुजी हमारे , हुए अवतरित हैं आज गुरूजी हमारे …

प्यारा बापू नाम

कितना शुभ प्यारा , बापू नाम तुम्हारा ।
श्री आशाराम नाम को , पूजे है जग सारा ॥
लीला तुम्हारी अद्भुत न्यारी , कैसे – कैसे खेल हैं ?
रूप मनुज का लेकर तुमने , किया ब्रह्म से मेल है
साँई लीलाशाह के नाम का , लेकर बापू सहारा
कितना शुभ प्यारा , बापू नाम तुम्हारा …………

जन्म से पहले एक सौदागर , सुंदर झूला लाया
उतरेगा नक्षत्र अवनी पर , थाऊमल को बताया
माँ मेंहगीबा की कोख को , धन्य कहे जग सारा
कितना शुभ प्यारा , बापू नाम तुम्हारा …………

नाम रतन से जिनके केवल , बनते बिगड़े काम हैं
योगलीला श्री आशारामायण , में पाते विश्राम हैं
पानी हो मुक्ति , ले लो तुम भी सहारा
कितना “शुभ” प्यारा , बापू नाम तुम्हारा …………

“शुभ” चरनन में प्रीत बढे कुछ , ऐसा करो उपाय
ज्ञान बढे और घटे अविद्या , प्रभु प्रेम हो जाए
मोदीनगर में बापू , दर्शन मिले दोबारा
कितना “शुभ” प्यारा , बापू नाम तुम्हारा ……..

आओ बापूजी के द्वार, गुरु ने लीना है अवतार

आओ बापूजी के द्वार, गुरु ने लीना है अवतार
लीना है अवतार, गुरु ने लीना है अवतार
ये है खुशियों का त्यौहार, मिल के झूमो नाचो यार
आओ बापूजी के द्वार, गुरु ने लीना है अवतार
हरि ॐ हरि ॐ हरि ॐ हरि ॐ

 

1) चैत वद छः उन्नीस अठानवे, आसुमल अवतरित आंगने
धन्य हो गये माता पिता और धन्य हो गई देश की धरती
हो गया धन्य सारा संसार, गुरु ने लीना है अवतार
आओ बापूजी के द्वार, गुरु ने लीना है अवतार
गुरु ॐ गुरु ॐ गुरु ॐ गुरु ॐ

 

2) देव लोक से सभी देवता, करने आये अमृत वर्षा
दर्शन की लेकर अभिलाषा, आये ब्रह्मा और महेशा
ये है विष्णु का अवतार, चरणों में झुक जाओ यार
आओ बापूजी के द्वार, गुरु ने लीना है अवतार
शिव ॐ शिव ॐ शिव ॐ शिव ॐ

 

3) ईश प्राप्ति की तड़प में, पहुँच गये वो गुरु के द्वार
सच्ची लगन और सेवा से, उनको मिल गया लीलाशाह का प्यार
पूर्ण गुरु की कृपा से, उनको हो गया आत्म साक्षात्कार
वो तो हो गये भव से पार, गुरु ने लीना है अवतार
आओ बापूजी के द्वार, गुरु ने लीना है अवतार
सतनाम वाहेगुरु सतनाम वाहेगुरु सतनाम वाहेगुरु

 

4) गुरु की आज्ञा पालन करके, ब्रह्म ज्ञान का किया प्रचार
हरि नाम के गुंजन से फिर, हो गयी उनकी जय-जयकार
सबसे प्यारे बापू मेरे, लीला इनकी अपरंपार
करते सबका बेड़ा पार, ये हैं ईश्वर का अवतार
आओ बापूजी के द्वार, गुरु ने लीना है अवतार

Videos