प्रश्नोत्तरी

परिप्रश्नेन विडियो

1 2 3 4 5

आध्यात्मिक

तात्त्विक

अखिल भारतीय हिन्दू अधिवेशन में उठी निर्दोष बापूजी की रिहाई की माँग
Ashram India

अखिल भारतीय हिन्दू अधिवेशन में उठी निर्दोष बापूजी की रिहाई की माँग

गोवा में 14 से 17 जून तक छठा ‘अखिल भारतीय हिन्दू अधिवेशन’ सम्पन्न हुआ । इसमें भारत के 21 राज्यों तथा नेपाल व श्रीलंका की 150 से अधिक हिन्दुत्ववादी संस्थाओं एवं संगठनों के 400 से अधिक प्रतिनिधियों ने भाग लिया । संत श्री आशारामजी आश्रम की ओर से साध्वी रेखा बहन अधिवेशन में सहभागी हुईं ।

इसमें सनातन संस्कृति की रक्षा करना, हिन्दू राष्ट्र की स्थापना करना, संतों के खिलाफ हो रहे षड्यंत्रों के प्रति समाज में जागरूकता लाना, पूज्य बापूजी की रिहाई की माँग बुलंद करना, सभी हिन्दू संगठनों द्वारा एकजुट होकर कार्य करना आदि विषयों पर विचार-विमर्श किया गया ।
प्रस्तुत हैं कुछ वक्तव्य :
भागवत कथाकार संत हरिराम शास्त्रीजी, अंतर्राष्ट्रीय रामसनेही सम्प्रदाय, जोधपुर : धर्म की गंगा बहाने, धर्म-परिवर्तन को रोकने तथा भारतीय संस्कृति को अक्षुण्ण बनाने में संत आशारामजी बापू की अहम भूमिका रही है । जब-जब हमारे देश में संतों पर आक्रमण हुए, षड्यंत्रकारियों ने साजिशें रचीं, तब-तब बापूजी अपने साधकों के साथ निर्दोष संतों को बचाने हेतु समाज में आगे आये हैं । अब हम सबका यह कर्तव्य है कि बापूजी व अन्य संतों पर हो रहे अत्याचारों को रोकने के लिए हमें विरोध-प्रदर्शन करना चाहिए ।
बाबा फलाहारी महाराज (वैष्णव परम्परा), अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष, लश्कर-ए-हिन्द : धर्म-जागृति एवं हिन्दुओं के धर्मांतरण पर रोक का काम बापूजी बखूबी कर रहे थे । बापूजी को जेल भेजा जाना मिशनरियों का ही षड्यंत्र है । मुझे तो पूर्ण विश्वास है कि आशारामजी बापू जैसे श्रेष्ठ व्यक्तित्व, जिन्होंने लाखों नहीं करोड़ों व्यक्तियों को सात्त्विक मार्ग, सन्मार्ग की ओर अग्रसर किया, ऐसा कुकृत्य कर ही नहीं सकते ! मैं आशा करता हूँ कि न्यायपालिका जल्द ही न्याय करेगी ।
श्री हरिशंकर जैन, अधिवक्ता, सर्वोच्च न्यायालय व अध्यक्ष, हिन्दू फ्रंट फॉर जस्टिस, लखनऊ : माननीय संत आशाराम बापूजी का चरित्र बेदाग है । सर्वविदित है कि बापूजी के जो भी आश्रम हैं, जहाँ भी हैं, वहाँ आध्यात्मिक कार्य ही होते हैं, वहाँ कभी कोई गलत कार्य नहीं होता है । बापूजी का यह कारावास हिन्दू राष्ट्र-स्थापना में मील का पत्थर साबित होगा ।
हिन्दू समाज का कर्तव्य है कि ऐसे संतों पर हो रहे षड्यंत्रों का पर्दाफाश करे, उनको न्याय दिलाये ।
स्वामी सुकृपानंदजी महाराज, छत्तीसगढ़ : बापूजी को 4 सालों से जेल में रखा गया है । उन पर पूर्णरूप से गलत आरोप लगाया गया है । एक संत को इतना बदनाम कर जेल में बंद करके उनको मानसिक क्लेश देने की जो साजिश है, मैं इसकी घोर निंदा करता हूँ । 
टी. राजा सिंह लोध, विधायक, गोशमहल (हैदराबाद) : मैं तो संत आशारामजी के चरणों में प्रणाम करता हूँ क्योंकि उन्होंने धर्मांतरण को रोकने व धर्म-रक्षा के लिए अनेक कार्य किये हैं । बापूजी के केस में कोई दम नहीं है, उसे सिर्फ लम्बा खींचकर उनका मनोबल तोड़ने का षड्यंत्र किया जा रहा है ।
श्री जी. राधाकृष्णन्, प्रदेश अध्यक्ष, शिव सेना, तमिलनाडु : बापूजी को झूठे आरोपों के तहत गिरफ्तार किया गया है । स्वामीजी (बापूजी) इतने सेवा-प्रकल्प, इतनी गौशालाएँ चलाते हैं, उनसे लाखों-लाखों लोग लाभान्वित हो रहे हैं । स्वामीजी पर हमें अथाह श्रद्धा है । पूरा हिन्दू समाज उनके लिए लड़ने को तैयार है । सरकार को परिस्थिति समझनी चाहिए और स्वामीजी को तत्काल रिहा करना चाहिए ।
साध्वी रेखा बहन : भगवान श्रीकृष्ण उद्धवजी से कहते हैं :
उधो ! मोहे संत सदा अति प्यारे ।
जा की महिमा वेद उचारे ।।  

पूज्य बापूजी सनातन धर्म के संत हैं, राष्ट्रीय संत हैं, लोकहितकारी संत हैं । उनकी रिहाई के लिए सभी हिन्दू संगठनों को एकत्र हो जाना चाहिए । 

-------------------------------------

Demand for the acquittal of innocent Bapuji raised in All India Hindu Convention

The sixth ‘All India Hindu Convention’ was held in Goa from June 14th to June 17th. More than 400 representatives of 150 plus pro-Hindu organisations from 21 states of India, along with those from Nepal and Sri Lanka, participated. On behalf of Sant Shri Asharamji Ashram, it was Sadhvi Rekha Behen who participated in the convention.

Topics including protecting Sanatan culture, establishing a Hindu nation, making the community aware of the conspiracies being framed against saints, strengthening the demand of Pujya Bapuji’s acquittal, uniting all Hindu organisations and thus working together as a group; were discussed.

Some of the prominent statements are below:

Bhagavat-narrator Sant Hariram Shastriji, International Rama Sanehi Sampradaya, Jodhpur: Sant Asharamji Bapu has played a pivotal role inundating the nation with the river of Dharma, stopping of religious conversions and keeping Indian Culture intact. During instances of attack on saints in our country, and conspiracies plotted by conspirators; Bapuji, along with His sadhakas, came forward in the community to save innocent saints. Now, it’s our joint responsibility to stage protest demonstrations to stop the atrocities being inflicted on Bapuji and other saints.

Baba Phalahari Maharaj (Vaishnava tradition), International President, Lashkar-e-Hind: Bapuji was doing the work of awakening the dharma and stopping proselytization of Hindus in an amazing way. His incarceration is verily a conspiracy plotted by the missionaries. I firmly believe that such a great personality like Asharamji Bapu, who has led not just lakhs, but crores of people to the sattvik (pure) and virtuous path; can never commit such a misdeed! I hope that the judiciary will administer justice soon.”

Shri Harishankar Jain, Advocate, Supreme Court; President, Hindu Front for Justice, Lucknow: Revered saint Asharam Bapuji’s character is unblemished. It’s a well-known fact that it’s only spiritual activities and not misdeeds that ever occur in any of the ashrams (running under the aegis) of Bapuji, irrespective of their location. This incarceration of Bapuji would prove to be the milestone in the establishment of Hindu Nation.

It is the duty of the Hindu community to expose the conspiracies being hatched against such saints to help them get justice.

Swami Sukripanandaji Maharaj, Chhattisgarh: Bapuji has been imprisoned for the past 4 years. The allegation made against Him is completely false. I strongly condemn this conspiracy of defaming a saint to this extent and torturing Him mentally by way of imprisonment.

T. Raja Singh Lodh, MLA, Gosha Mahal (Hyderabad): My salutations at the feet of Sant Asharamji because of the numerous (selfless) works that He has done for stopping proselytization and protecting Dharma. Bapuji’s case is false & baseless; it’s just being (unnecessarily) stretched as a part of conspiracy to demoralise Him.

Shri G. Radhakrishnan, Regional President, Shiva Sena, Tamilnadu: Bapuji has been incarcerated under false allegations. Hundreds of thousands of people are being benefitted out of so many selfless service projects and Gaushalas being run under Swamiji’s (i.e. Bapuji’s) aegis. We have boundless faith in Swamiji. The entire Hindu community is ready to fight for Him. The Government must understand the situation and acquit Him immediately.

Sadhvi Rekha Behen: Lord Shri Krishna tells Uddhava:

उधो ! मोहे संत सदा अति प्यारे ।
जा की महिमा वेद उचारे ।।  

“Uddhava, I always love saints immensely. The Vedas sing their glory.”

Pujya Bapuji is a National Saint, a Benevolent Saint, the saint who represents Sanatan Dharma. I expect all Hindu organisations to unite for His acquittal.

[Rishi Prasad Issue-295]

 

Print
4597 Rate this article:
4.5
Please login or register to post comments.

आश्रमवासी द्वारा उत्तर

How to obtain Saraswatya mantra diksha?

Admin 0 465 Article rating: No rating

Guruji I wanted a saraswati mantra diksha from you. I want to excel in my studies. Im surprised to see so much miracles and blessings you are showering upon your followers

RSS
245678910Last

ध्यान विषयक

निद्रा का व्यवधान क्यों होता है और उसका निराकरण कैसे होता है प्रभु ?

Admin 0 4773 Article rating: 4.3
श्री हरि प्रभु ! चालू सत्संग में जब मन निःसंकल्प अवस्था में विषय से उपराम होकर आने लगता है ,तो प्रायः निद्रा का व्यवधान क्यों होता है और उसका निराकरण कैसे होता है प्रभु ?

ध्यान की अवस्था में कैसे पहुंचे ? अगर घर की परिस्थिति उसके अनुकूल न हो तो क्या करे ?

Admin 0 2856 Article rating: No rating

ध्यान  की  अवस्था  में  कैसे  पहुंचे ? अगर  घर  की  परिस्थिति  उसके  अनुकूल  न  हो  तो  क्या  करे ?

RSS

EasyDNNNews

Q&A with Sureshanand ji & Narayan Sai ji

कैसे जाने की हमारी साधना ठीक हो रही है ? कैसे पता चले के हम भी सही रस्ते है? कौनसा अनुभव हो तो ये माने की हमारी साधना ठीक चल रही है ?

पूज्य श्री - सुरेशानंदजी प्रश्नोत्तरी

Admin 0 4313 Article rating: 3.4
RSS
12