Tamil Books

Shri Guru Gita (Tamil)

श्रीगुरुगीता (तामिल)

ISBN (Paper Back):9789389972870


"श्रीगुरुगीता" भगवान शंकर और पार्वतीजी के संवाद से प्रकट हुई ज्ञान-गंगा का संग्रह यह ‘गुरुगीता’रूपी अमृत कुम्भ है । इसमें वर्णित ज्ञान भवरोग निवारण के लिए अमोघ औषधि है । गुरुभक्तों के लिए यह परम अमृत है । गुरुगीता सर्व पाप को हरनेवाली और सर्व दारिद्र्य का नाश करनेवाली है ।   Read more

Bhagwan naam jap mahimaa (Tamil)

भगवन्नाम जप-महिमा (तामिल)

ISBN (Paper Back):9789390306466


"भगवन्नाम जप-महिमा" मंत्रों में गुप्त अर्थ और उनकी शक्ति होती है, जो अभ्यासकर्ता को दिव्य शक्तियों के पुंज के साथ एकाकार करा देती है । भगवान का मंगलकारी नाम दुःखियों का दुःख मिटा सकता है, रोगियों के रोग मिटा सकता है, पापियों के पाप हर लेता है, अभक्त को भक्त बना सकता है, मुर्दे में प्राणों का संचार कर सकता है ।   Read more

Man ko sikh (Tamil)

मन को सीख ((तामिल)

"मन को सीख" मनुष्य का मन ही सुख-दुःख, शांति-अशांति, लाभ-हानि, स्वर्ग-नरक की कल्पना करता है और उसी प्रकार की सृष्टि का सृजन करता है । ‘जिसने मन जीता, उसने जग जीता ।’ मन को जीतने का प्रयास करना यही पुरुषार्थ है । मन को महापुरुषों द्वारा बतायी हुई युक्तियों से ही जीता जा सकता है ।   Read more

Yogasan (Tamil)

योगासन (तामिल)

"योगासन" दिन-प्रतिदिन बढ़ते जा रहे रोगों से बचने तथा उनके निवारण हेतु बिना खर्च, बिना किसी हानि के शरीर को स्वस्थ, मन को प्रसन्न और बुद्धि को निर्मल व कुशाग्र बनाने हेतु योगविद्या का आश्रय लेना बहुत ही हितकारी है । आसन शरीर के समुचित विकास के लिए अत्यंत उपयोगी सिद्ध होते हैं ।   Read more

Jivan Rasayan (Tamil)

जीवन रसायन (तामिल)

"जीवन रसायन" स्वस्थ, मस्त एवं आत्मस्थ (आत्मा में स्थित) बनानेवाला सत्साहित्य

  Read more

Pursharth Paramdev (Tamil)

पुरुषार्थ परम देव (तामिल)

"पुरुषार्थ परम देव" देव बड़ा या पुरुषार्थ ? देव के आश्रित रहनेवाला जरूरी नहीं कि जो चाहे वह सफलता, वह उपलब्धि कर सके लेकिन स्वयं का प्रयत्न, स्वयं का पुरुषार्थ देवों का भी देव है, परम देव है । अतः पुरुषार्थ करके व्यक्ति जो चाहे वह पा सकता है, जहाँ चाहे पहुँच सकता है ।   Read more

Matri Pitri Pujan Divas (Tamil)

मातृ-पितृ पूजन (तामिल)

"मातृ-पितृ पूजन" बाल व युवा पीढ़ी को पतन की खाइयों से बचाकर उज्ज्वल भविष्य व सुखमय जीवन की ओर ले जानेवाला सत्साहित्य

  Read more
RSS