Punjabi Books

Divya Prerna Prakash

दिव्य प्रेरणा-प्रकाश (Hindi)

ISBN (Paper Back):978-81-944317-3-2
ISBN (E-Book):978-93-90235-01-8

"दिव्य प्रेरणा-प्रकाश" बच्चों व युवक-युवतियों को ओजस्वी-तेजस्वी बनानेवाला, स्वास्थ्यबल, मनोबल एवं प्रभाव बढ़ाने तथा स्वस्थ-सम्मानित जीवन जीने की कला सिखानेवाला सत्साहित्य

  Read more

Man ko Sikh

मन को सीख (Hindi)



"मन को सीख" मनुष्य का मन ही सुख-दुःख, शांति-अशांति, लाभ-हानि, स्वर्ग-नरक की कल्पना करता है और उसी प्रकार की सृष्टि का सृजन करता है । ‘जिसने मन जीता, उसने जग जीता ।’ मन को जीतने का प्रयास करना यही पुरुषार्थ है । मन को महापुरुषों द्वारा बतायी हुई युक्तियों से ही जीता जा सकता है ।

  Read more

Nashe se Savdhan

नशे से सावधान (Hindi)

ISBN (Paper Back):9789389972610


"नशे से सावधान" अधोगामी जीवन को उर्ध्वगामी बनाने और दिव्य जीवन जीने को प्रेरित करनेवाले इस सत्साहित्य में है :

  Read more

Madhur Vyavhar

मधुर व्यवहार (Hindi)



"मधुर व्यवहार" शास्त्रों का उद्देश्य है - अपना और दूसरों का जीवन मधुमय, प्रभुमय, आत्मानंदमय बनाना । प्रेम, सहानुभूति, सम्मान, मधुर वचन, परहित एवं त्याग-भावना आदि से ही आप हर किसीको सदा के लिए अपना बना सकते हो । जिसके जीवन में व्यवहारकुशलता है वह सभी क्षेत्रों में सफल होता है ।

  Read more

Jo jagat Hai so pavat Hai

जो जागत है सो पावत है (Hindi)

"जो जागत है सो पावत है" संसार की नश्वरता देखकर भगवान रामजी को वैराग्य हुआ, सिद्धार्थ को वैराग्य हुआ... ऐसे कइयों के पुण्योदय जागृत होते हैं तो वे अपने मनुष्य-जीवन का मुख्य उद्देश्य सिद्ध करने के रास्ते चल पड़ते हैं और आत्मसाक्षात्कर भी कर लेते हैं । आप स्वयं ही विचार कीजिये कि ‘हम क्या हैं और क्या कर रहे हैं ?

  Read more

Prasad

प्रसाद (Hindi)



"प्रसाद" जीवन में आप जो कुछ करते हैं उसका प्रभाव आपके अंतःकरण पर पड़ता है । कोई भी कर्म करते समय अपने जीवन पर होनेवाले उसके परिणाम को सूक्ष्मता से निहारना चाहिए । ऐसी सावधानी से ही हम अपने मन व इन्द्रियों को नियंत्रित कर बुद्धि को सत्यस्वरूप आत्मा-परमात्मा में प्रतिष्ठित कर सकेंगे ।

  Read more

Yogasan

योगासन (Hindi)

"योगासन" दिन-प्रतिदिन बढ़ते जा रहे रोगों से बचने तथा उनके निवारण हेतु बिना खर्च, बिना किसी हानि के शरीर को स्वस्थ, मन को प्रसन्न और बुद्धि को निर्मल व कुशाग्र बनाने हेतु योगविद्या का आश्रय लेना बहुत ही हितकारी है ।

  Read more

Prabhu! Param Prakash ki Aur Lechal

प्रभु ! परम प्रकाश की ओर ले चल... (Hindi)



"प्रभु ! परम प्रकाश की ओर ले चल... "संसार का अज्ञान-अंधकार मिटाने के लिए जो अपने-आपको जलाकर प्रकाश देता है, संसार की आँधियाँ उस प्रकाश को बुझाने के लिए दौड़ पड़ती हैं । उसके बावजूद भी जैसे सूर्य अपना प्रकाश देने का स्वभाव नहीं छोड़ता वैसे ही संत भी करुणा और परहितपरायणता का स्वभाव नहीं छोड़ते हैं ।

  Read more

Nirbhay Naad

निर्भय नाद (Hindi)

ISBN (Paper Back):9789389972252


"निर्भय नाद" भय, चिंता, शोक मिटाकर बुझते हुए हृदयों को प्रकाशित करनेवाला सत्साहित्य

इसमें है :

* निर्भयता, निश्चिंतता की युक्तियाँ

* अपने अमरस्वरूप की स्मृति दिलानेवाली उपनिषदों के आध्यात्मिक खजाने का अमृत

  Read more

Guru Bhakti Yoga

Guru Bhakti Yoga (Hindi)



"गुरुभक्तियोग" शास्त्रों व महापुरुषों का मत है कि विवेकी मनुष्य को ईश्वर से भी अधिक गुरु की भक्ति करनी चाहिए क्योंकि कोई मनुष्य समस्त शास्त्रों में प्रवीण हो तो भी गुरुभक्ति के बिना आत्मज्ञान नहीं पा सकता ।

  Read more

Hame Lene Hai Achche Sanskar

हमें लेने हैं अच्छे संस्कार (Hindi)

"हमें लेने हैं अच्छे संस्कार" यदि हमें अपने राष्ट्र के भविष्य को उज्ज्वल बनाना हो तो बच्चों में अच्छे संस्कार भरने होंगे क्योंकि वे ही राष्ट्र के भावी कर्णधार हैं । बाल्यावस्था में अच्छे संस्कारों के बीज बच्चों के अंतःकरण में डाल दिये जायें तो अवसर आने पर वे उदित होते हैं । बच्चों में महानता के संस्कार जगानेवाली, सुषुप्त शक्तियों का विकास करनेवाली तथा उन्हें स्वस्थ, प्रसन्नचित्त, उत्साही, एकाग्र, लक्ष्यभेदी एवं कार्यकुशल बनानेवाली युक्तियों को संकलित करके ‘हमें लेने हैं अच्छे संस्कार’  नाम की यह पुस्तक बनायी गयी है ।

  Read more

Baal Sanskar (Punjabi)

बाल संस्कार (Hindi)

ISBN (Paper Back):9789389972788


"बाल संस्कार "सरल, सुबोध शैली में बच्चों में सुसंस्कारों का सिंचन करने हेतु तथा उत्तम चारित्र्य-निर्माण में सहायक बालोपयोगी सामग्री का संकलन है ‘बाल संस्कार’ पुस्तक । बच्चों में छुपे असीम सामर्थ्य को विकसित करने में अमूल्य योगदान देनेवाली है यह पुस्तक । इसकी मदद से देश-विदेश में स्थित हजारों ‘बाल संस्कार केन्द्र’ बच्चों में सुसंस्कार-सिंचन का कार्य कर रहे हैं ।

  Read more
RSS