भगवान कैसे है ?

Admin 0 2256 Article rating: No rating
पूज्य बापूजी :- भगवान शिव है कि पार्वती ? ऐसे है कि वैसे है ?... इस पचड़े में पड़ो ही मत ! 

वे तो चौरासी लाख जन्मो में रोते रहेंगे, अपने को जो करना है कर डालो भाई ! शादी या आत्मसाक्षात्कार

Admin 0 445806 Article rating: 3.8

विवेक की धनीः कर्मावती

Admin 0 11360 Article rating: 4.0
यह कथा सत्यस्वरूप ईश्वर को पाने की तत्परता रखनेवाली, भोग-विलास को तिलांजलि देने वाली, विकारों का दमन और निर्विकार नारायण स्वरुप का दर्शन करने वाली उस बच्ची की है जिसने न केवल अपने को तारा, अपितु अपने पिता राजपुरोहित परशुरामजी का कुल भी तार दिया।
RSS
First2345791011Last